पड़ोसी ने मुझे फंसा कर मेरी चूत की पहली चुदाई की

हैलो हॉट बाय्स और गरम सेक्सी गर्ल्स.. मेरा नाम विक्की है और मुझे हिंदी में हॉट सेक्स कहानियां और चुटकुले पढ़ना पसंद हैं. मैं लखनऊ में रहकर पढ़ाई करता हूँ.
बात उस समय की है जब मैं 18 साल का था और अपने घर में रहता था.
मेरे घर के पास में ही एक देसी सी लड़की रहती थी, जिसका नाम ममता था. ममता का फिगर स्लिम है और वो बहुत गोरी लड़की है. मैं और ममता एक-दूसरे को पसंद करते थे और मैं कभी-कभी उसको अपने घर बुलाकर उससे बातें करता था. हम दोनों एक ही उम्र के थे और कभी-कभी हम किस भी कर लिया करते थे. लेकिन परिस्थितियों के चलते हमारा चुदाई का कार्यक्रम कभी नहीं बन पाया.
अब मैं जब पढ़ाई करने लखनऊ आ गया तो मैं यहाँ अलग रूम लेकर रहता था. वो भी लखनऊ के एक कॉल सेंटर में जॉब करने लगी.
मैंने ममता से उसका नंबर ले लिया और फिर हम दोनों के बीच मैसेज और मोबाइल पे बातों का दौर स्टार्ट हुआ.
एक दिन बात करते-करते मैंने उसको थोड़ा सा सेक्सी मैसेज सेंड कर दिया. पहले तो वो थोड़ा नाराज़ हुई लेकिन बाद में वो भी सेक्सी मैसेज में चैट करने लगी.
एक दिन मैं उससे मोबाइल पर बात कर रहा था तभी मैंने उससे कहा- मैं तुमसे मिलना चाहता हूँ.
वो बोली- मिल कर क्या करना है? मैं तुमसे डेली बात तो करती हूँ ना!

loading…

फिर एक दिन मैंने उससे हॉट चैट करना स्टार्ट किया और बाद में चुदाई की बातें की. अब वो हॉट हो गई.. और उसने मुझे चुत में आग लगने की बात कही.
फिर मैंने उसको फिंगरिंग करना बताया. उस दिन वो लाइफ में पहली बार अपनी चुत में उंगली करके झड़ी. उसने मुझे बताया कि उसकी चुत से खूब सारा सफेद पानी निकला.
कुछ दिन बाद उसने मुझसे चुदवाने का मन बनाया. चूंकि हम दोनों एक-दूसरे को पसंद करते थे इसलिए उसको कोई दिक्कत नहीं थी. मैंने उसको अपने रूम पर बुलाकर चोदना चाहा, वो राज़ी हो गई.
अगले दिन वो कॉल सेंटर ना जाकर मेरे रूम पर आ गई. मैंने उसका वेलकम किया और उसे बांहों में भरते हुए उसके गालों पे एक किस कर ली. वो मेरे रूम पर चूड़ीदार सलवार और कुर्ता पहनकर आई थी, जिसमें उसके चूचे और मस्त गांड उभर आई थी. वो बहुत मस्त लग रही थी.
वो बहुत हॉट और एग्ज़ाइटेड थी फिर भी नखरे दिखाते हुए बोली- ये क्या कर रहे हो?
मैंने कहा- मैं तुमसे प्यार करता हूँ.. आई लव यू!
तो उसने भी हामी भरते हुए मुझे उत्तर दिया.
फिर क्या था.. मैंने तुरंत ही उसे अपनी बांहों में भर लिया और पागलों की तरह किस करने लगा. मेरा लंड पूरा खड़ा था. जब मैं किस करने लगा तो पहले तो उसने कोई रेस्पॉन्स नहीं दिया लेकिन थोड़ी देर के बाद वो भी मेरा साथ देने लगी.
उसे किस करते-करते कब मेरे हाथ उसके मम्मों पे पहुँच गए, मुझे पता ही नहीं चला. थोड़ी देर बाद वो बहुत एग्ज़ाइटेड हो गई थी, तब मैंने उसका कुर्ता उतार दिया और उसको किस करने लगा. साथ में मैं उसको कमर के ऊपर सहला रहा था, उसकी साँसें तेज़ हो रही थीं. वो मेरा नाम लेते हुए चुदास से सिसक रही थी और मुझसे पूरा चिपक गई थी.
अब मुझसे रहा नहीं गया, मैंने उसकी ब्रा उतार दी और उसके मम्मों को चूसने लगा. उसके चूचे एकदम तने हुए थे और मैं उन्हें चूस रहा था.
ममता ने मेरा लोवर उतार दिया और मेरा लंड सहलाने लगी. मुझे उसका लंड छूना बहुत अच्छा लगा. फिर वो ‘आअहह ऊऊहह..’ की आवाज़ करने लगी.
हम दोनों वासना की आग में जलने लगे. फिर किस करते-करते मैंने अपना एक हाथ उसकी सलवार के ऊपर से ही उसकी चुत पर रख दिया.
क्या बताऊं दोस्तो कि उसकी चुत कितनी ज़्यादा गर्म थी. कुछ देर तक मैं ऐसे ही चुत सहलाता रहा. फिर मैंने उसको अपनी गोद में उठाया और बेड पर लिटा दिया.
अब मैंने उसकी सलवार निकाल दी और खुद भी पूरा नंगा हो गया. मैं उसकी गीली पेंटी के ऊपर से ही चुत को सहलाने लगा. चुदास का माहौल बन गया था. मैं उसको कान पर, गले पर, होंठों पर.. लगातार चुम्बनों की बौछार किए जा रहा था. फिर मैं उसको उल्टा करके उसकी बैक पर किस करने लगा और उसे चाटने लगा. हम दोनों को बहुत मज़ा आ रहा था.
फिर मुझसे रहा नहीं गया, तब मैंने उसकी लाल धारीदार पेंटी को उतार दिया. उसकी छोटी सी चुत को देख कर मेरे मुँह में पानी आ गया. मैं 69 पोज़िशन में होकर उसकी चुत चूसने लगा और साथ-साथ उसकी गोरी जांघें और कमर के आस-पास भी बहुत चूसने-चाटने लगा.

loading…

मैं चूसते हुए उसकी बहुत टाइट चुत में उंगली भी कर रहा था, जो उसको बहुत पसंद आया. अब वो और तेज़ी से मोन करने लगी. कुछ ही पलों में तो वो जैसे झड़ने ही वाली हो उठी थी. दो मिनट बाद वो झड़ गई. मैं उसकी चुत का सारा पानी पी गया, जो मुझे बहुत अच्छा लगा.
वो भी उत्तेजना में मेरा लंड चूसने लगी और थोड़ी देर बाद में भी झड़ने लगा. उसने भी मेरा पूरा पानी पी लिया. अब वो भी हांफ रही थी और मुझसे चिपकी हुई थी.
मैंने उसकी आँखों में चुदाई की भूख देखी और मैं 69 से उठ कर उसके पास लेटकर उसको प्यार करने लगा. हम दोनों फिर एक बार गर्म हो गए और उसने मुझे जल्दी से चोद देने को कहा.
उसके दोनों पैर मैंने फैला दिए, उसकी चिकनी गुलाबी हॉट चुत मेरे लंड के सामने थी और मेरा लंड अन्दर जाने को तैयार था. मैं उसकी चिकनी चुत पर लंड सहलाने लगा और वो तड़पने लगी.

loading…

मैंने उसकी गीली चूत पर लंड रखकर दबाया तो वो उछल पड़ी और थोड़ा डर भी गई. उसने मुझे अपने ऊपर से हटा दिया और मैंने भी चुदाई कुछ देर के लिए रोक दी.
फिर मैंने उसको एक छोटी सी हॉट सेक्स मूवी दिखाई, जिसमें नई चुत की सील टूटने के बाद चुत को मिलने वाले मजे का नजारा था.
अब वो समझ गई और मुझसे चुदवाने के लिए अपनी टांगें फैला दीं. मैंने फिर धीरे से उसकी चुत में लंड डाला, उसको बहुत दर्द हुआ और मैं उसके दर्द को कम करने के लिए उसको किस करने लगा और चुचियों को चूसने लगा. थोड़ी देर बाद वो रिलेक्स हुई और अपनी गांड हिलाने लगी. मैं भी तैयार था, मैं झटके मारने लगा और साथ में वो भी उछलने लगी. उसकी गीली चुत छपचप की आवाज़ कर रही थी जो कि मेरा जोश बढ़ा रही थी. फिर मैं उसको बहुत तेज़ रफ्तार से चोदने लगा और वो भी चुदवाने लगी.
हम दोनों बहुत गरम थे. धीरे-धीरे उसका बदन अकड़ने लगा.. उसने अपने नाख़ून मुझमें गड़ा दिए और वो झड़ गई.
अब मेरा लंड उसकी चुत में बहुत आसानी से जा रहा था. थोड़ी देर बाद मैं भी झड़ गया और अपना माल उसकी चुत में डाल दिया. पूरी चुदाई के बाद मैं उसको अपने पास लिटाकर प्यार करने लगा और वो आई लव यू बोलकर मेरी बांहों में आ गई.
हम थोड़ी देर यू ही रिलेक्स हुए और थोड़ी देर बाद हम फिर से हॉट हो गए हालांकि उसने कहा कि रहने दो, उसकी चुत में दर्द हो रहा है, मैंने फिर भी उसको मना लिया.
अब मैं ममता की चुत चूसने लगा. मुझे उसकी चिकनी चुत अब और भी टेस्टी लग रही थी. वो भी मज़े से मेरा लंड चूस रही थी. फिर मैंने उसको अपने लंड पर बिठाया और धीरे-धीरे चोदने लगा. हम दोनों को इस बार ज़्यादा मज़ा आ रहा था. मैं ममता को अपने ऊपर बिठाकर चोद रहा था और वो बहुत मज़े से मेरे लंड पर उछल रही थी. उसकी चुत से अजीब सी ‘पुच्छ पुच्छ..’ की आवाजें आ रही थीं और वो बीच-बीच में मुझे किस भी कर रही थी.
ममता का गोरा बदन चमक रहा था और उसका मुँह लाल हो गया था, वो ‘आआह.. अहह अहह मेरे विक्की.. अब मैं रोज़ तुमसे चुदवाऊंगी.. अह.. मेरी चुत फाड़ दो.. आई लव यू.. आह..’ कहे जा रही थी.
उसकी कामुक सीत्कारें मेरा जोश बढ़ा रही थीं. फिर जब मैं झड़ने वाला हुआ तो मैं रुक गया और पोज़िशन बदल ली. अब वो घोड़ी बन गई और मैं उसको पीछे से चोदने लगा. वो लंड डलते ही एक बार और झड़ गई.
उसने हाँफते हुए मुझसे कहा कि वो थक गई है और कई बार झड़ चुकी है. तब मैंने उसको ज़ोर-ज़ोर से चोदा, जिससे वो एक बार और झड़ गई. उसे बहुत थकान हो गई थी और वो दर्द से कराहने लगी.
तब मैंने अपने लंड को उसकी चुत से निकाल लिया. वो तुरंत उठकर मेरा लंड चूसने लगी और मैं उसके मुँह में ही झड़ गया.
अब हम दोनों थक चुके थे. मैंने उसको चार घंटे तक चोदा था. फिर हम साथ में नहाये, जहाँ मैंने उसकी चुत साफ़ की और उसने मेरा लंड चूसा और धोया. मैंने उसकी चुत में उंगली की. इधर वो इतनी एग्ज़ाइटेड हो गई कि वो झड़ने के साथ मूतने भी लगी.
हम दोनों ने नहा कर कपड़े पहने. उसने मुझे एक लम्बा किस किया. फिर हमने बिस्तर ठीक करके नाश्ता किया और उसने अनवॉंटेड की दवा ले ली. मैं और ममता अपनी पहली चुदाई के बाद बहुत खुश थे.

loading…

ममता और मैंने एक-दूसरे को चुदाई के बहुत मौके दिए और आगे की कहानी में मैंने कैसे ममता को रात में रूम पर बुलाकर चोदा और कैसे उसकी मालिश करके तेल लगाकर उसकी गांड मारी.. जो मुझे बहुत पसंद आई.
वो किस्सा आगे की चुदाई की हॉट सेक्स कहानी में लिखूंगा.

loading…
Hindi Sex Stories, Indian Sex Stories, Hindi Sex Kahani, Desi Chudai Kahani, Free Sexy Adult Story, New Hindi Sex Story,muslim sex,indian sex,pakistani sex , Mastram , gandikhaniya.com , Gandi Khaniya

Add a Comment

Your email address will not be published.